NDRF Full Form Meaning in Hindi

सोशल मीडिया पर शेयर करके आगे बढ़ाये

नमस्कार दोस्तों, आज हम बात करने जा रहे है NDRF full form Hindi meaning की , वैसे तो आपने कभी न कभी, इस नाम को न्यूज़ चैनल, अख़बार में सुना ही होगा विशेष तौर पर तब तो आपने जरूर सुना होगा जब किसी शहर ,राज्य या देश में कोई प्राकृतिक आपदा या समस्याएं आती है. तो सबसे पहले NDRF team लोगों की मदद करने के लिए पहुँच जाती है.  क्योंकि प्राकृतिक आपदाओं का सामना करने की सामान्य नागरिकों या मौजूद पुलिस फ़ोर्स या मेडिकल स्टाफ़ इन तरह की आपदाओं की इन अलग तरह की विपत्तिओं व समस्याओं को सुचारू रूप से निपटने व सँभालने में सक्षम नही होते है इसलिए इस नए पुलिस बल का निर्माण किया गया है जिसें NDRF कहा जाता हैं.

देश में हर तरह के problem से बचने के लिए अलग-लग प्रावधान है जैसे की अगर बाहरी दुश्मनो से लड़ना हो तो Army है और अगर देश के अंदर के दुश्मनो से लड़ना हो तो Police है ठीक इसी तरह देश में आने वाले सभी प्राकृतिक आपदाओं से बचने के लिए NDRF team बनाया गया है.

अभी तक इसके बारे में बहुत कम लोग जानते थे लेकिन जब से Coronavirus पूरी दुनिया और हमारे देश में आया है उसके बाद NDRF meaning, full form, battalion और इस्सके जुड़े बहुत से जानकारी के बारे में लोगो ने इंटरनेट पर सर्च करना शुरू कर दिया है.

इसलिए मैंने सोचा इसके बारे में थोड़ा विस्तार से बताया जाये और आगे तो exams में इससे जुड़े बहुत से सवाल आने वाले है इसके बारे में आप सभी को पता होगा ऐसे में इसके बारे में आप सभी को जानना बहुत जरुरी है.

NDRF क्या होता है? Full Form & Meaning in HindiNDRF full form

NDRF का फुल फॉर्म ही होता है National Disaster Response Force या ‘राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल’.

इस NDRF का गठन, “आपदा प्रबंधन Act 2005 की धारा 44-45 section” के तहत आपदा प्रबंधन के लिए सर्वोच्च निकाय के तहत “खतरनाक आपदा स्थिति या आपदा के लिए विशेषज्ञ प्रतिक्रिया” के उद्देश्य से गठित एक विशेष भारतीय बल है.

National Disaster Response Force जिसका Hindi meaning होता है राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल, भारत सरकार की “राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (NDMA)” की एक Apex Body के रूप  काम करती है. NDMA का अध्यक्ष हमारे प्रधानमंत्री जी होते है.

भारत में आपदाओं के प्रबंधन की जिम्मेदारी राज्य सरकार की है तथा प्राकृतिक आपदाओं के प्रबंधन के लिए केंद्र सरकार में ‘नोडल मंत्रालय’ गृह मंत्रालय (एमएचए) की है.

जब  भी कही कोई ‘गंभीर प्राकृतिक आपदाएँ’ आती हैं, राज्य के अनुरोध पर, केंद्र सरकार सशस्त्र बलों, केंद्रीय अर्धसैनिक बलों, राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) के तैनाती सहित संचार, हवा और अन्य परिसंपत्तियां, जैसी सेवाएं  भी उपलब्ध  प्रभावित राज्य सरकारों को उपलब्ध करवाती है.

राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अधीन है.

NDRF के प्रमुख को Director General के रूप में नामित किया गया है। एनडीआरएफ के Director General भारतीय पुलिस संगठनों से deputation पर आईपीएस अधिकारी होते हैं। और Director-General सेना की तीन सितारा जनरल की रैंक की वर्दी और बैज भी पहनते  हैं।

NDRF Battalions List

राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) 12 बटालियनों का एक दल है.जो पैरा-मिलिट्री लाइनों पर आयोजित की जाती है और भारत के अर्ध-सैन्य बलों से deputed अधिकारिओ द्वारा संचालित होती है.

जिसमे

  • 3 सीमा सुरक्षा बल
  • 3 केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल
  • 2  केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल
  • 2  भारत-तिब्बत सीमा पुलिस
  • 2 सशस्त्र सीमा बल

मौजूद होती है.

प्रत्येक बटालियन की कुल संख्या लगभग 1149 member है. प्रत्येक बटालियन में  ‘विशेषज्ञ खोज’ और ‘बचाव दल प्रदान सेवाएं’ देने वाले 18 self-contained टीम व इंजीनियर, तकनीशियन, इलेक्ट्रीशियन, डॉग स्क्वॉड और मेडिकल / पैरामेडिक्स सहित 45 कर्मियों की टीम मौज़ूद होती है।

प्राकृतिक आपदाओं का जवाब देने में सक्षम होने के अलावा NDRF में चार बटालियन  ऐसी भी हैं जो रेडियोलॉजिकल, न्यूक्लियर, बायोलॉजिकल और रासायनिक जैसी भीषड़ आपदाओं का जवाब देने में सक्षम हैं.

इनके बारे में पढ़े,

NDRF Battalions Details & Deployment Strategies

Ndrf team

अभी फ़िलहाल NDRF देश के 12 विभिन्न स्थानों पर स्थित हैं. 12 बटालियन होने के कारण यह बल किसी भी समस्याओं में अपने response time में कटौती के लिए हमेशा काम करती रहती है.

ताकि जरुरत में फॅसे लोगो के पास जल्द से जल्द पहुंचा जा सके. किसी एक खतरनाक आपदा /विशेष अवधि के दौरान NDRF टीम को किसी भी राज्य में सहायता पहुंचने व सक्रिय तैनाती के लिए राज्य सरकारों तथा actively NDMA टीम की सलाह व इज़ाजत लेनी होती होती है.

NDRF की देश में वर्तमान 12 स्थिति निम्नानुसार है (NDRF Battalions List)

S. No. NDRF Unit State CPF
1 01 Bn NDRF, गुवाहाटी असम BSF
2 02 Bn NDRF, कोलकाता वेस्ट बंगाल BSF
3 03 Bn NDRF, कटक उड़ीसा CISF
4 04 Bn NDRF, अराकोनम तमिलनाडु CISF
5 05 Bn NDRF, पुणे महाराष्ट्र CRPF
6 06 Bn NDRF, गांधीनगर गुजरात CRPF
7 07 Bn NDRF, भटिंडा पंजाब ITBP
8 08 Bn NDRF, गाजियाबाद उत्तर प्रदेश ITBP
9 09 Bn NDRF, पटना बिहार BSF
10 10 Bn NDRF, विजयवाड़ा आंध्र प्रदेश CRPF
11 11 Bn NDRF, वाराणसी उत्तर प्रदेश SSB
12 12 Bn NDRF, इटानगर अरुणाचल प्रदेश SSB

इस बल का उपयोग व कार्यशैली इस बात पर निर्भर करती है की देश में पहले आयी हुई विपत्तिया या जिस प्रकार से आज के युग में मानव द्वारा किये जा रहे प्रदूषण से भबिष्य में होने वाले प्राकृतिक व अप्राकतिक आपदाओं , घटनाओं से कैसे बचा जाये , और उस से होने वाली नुकसान और तबहियो से कैसे जान और माल की क्षति को कम कर वहां ऱक्षा व जल्द से जल्द जरूरी सेवाएं पहुंचे जाये।

वैसे ये कह पाना की हम प्राकृतिक आपदाओं को रोक सकते है या उनसे होने वाली जान माल के नुक़सान को बिलकुल रोक सकते है , तो यह कथन तो बिलकुल गलत होगा क्यों की प्रकति पर किसी का बस नहीं। लेकिन फिर भी इस NDRF बल का उद्देश्य उस इस नुकसान से बचने व जीवन को सामान्य तौर से वापस लाने के लिए समय समय पर कई प्रकार की dummy ट्रेनिंग sessions होते रहते है.

NDRF ज्वाइन कैसे करे?

दोस्तों , भारत यह एक ऐसा एकलौता ही बल है जहाँ आप डायरेक्ट भर्ती नहीं हो सकते , इसके लिए आपको उल्लेखित Border Security Force(BSF), Central Reserve Police Force (CRPF), Central Industrial Security Force(CISF), Indo-Tibetan Border Police (ITBP) और सशस्त्र सीमा बल, इनमे किसी भी बल की सेवा में भर्ती हो कर अपनी मानसिक व शारारिक क्षमता को साबित करना होगा. NDRF के एंट्रेंस के मानकों के अनुसार फिट पाये जाने के बाद ही आप NDRF बल का हिस्सा बन देश की सेवा कर सकते है.

हालांकि आपको ये जान कर भी हैरानी होगी की इतनी कठोर परिश्रम व इतने मानकों को पार करने  भी आपको NDRF में सेवा करने के लिए आपको लगभग 3 वर्ष के लिए ही प्रतिनियुक्ति(deputed) किया जाता  जाते हैं. अपनी NDRF की अवधि पूरी करने के बाद वे अपने मूल संगठन में वापस चले जाते हैं.

Visti NDRF official Website for more update

Some Disaster response of NDRF Team

NDRF के जवानो ने 2005 के बाद भारत में ऐसे कई मौको पर पहुंच कर अपने बल व वैभव का प्रमाण दिया है तथा हर क्षेत्र जैसे लोगो के जल में डूबते मामलों, इमारत ढहने, भूस्खलन, विनाशकारी बाढ़ और चक्रवात सहित विभिन्न आपदाओं के दौरान लोगो के पास जल्द से जल्द पहुंच कर ,अपने सराहनीय प्रदर्शन के साथ अपनी प्रभावकारी क्षमता से लोगो की जान-माल की सुरक्षा व सेवा की है.

NDRF  टीम ने ने भारत देश में बीते इतने सालो में 73 प्रतिक्रिया अभियानों में 1,33,192 मानव जीवन को बचाया और आपदा पीड़ितों के 2760 शवों को कई विषम स्थानो से पुनः प्राप्त किया।

Some of the major response operations of NDRF as below (2007 to 2020)-

2020

  • NDRF rushed & monitor the Corona COVID -19
  • Gas leak in Visakhapatnam, Andhra Pradesh – 7 May 2020
  • चक्रवात Amphan प्रबंधन के लिए पश्चिम बंगाल में NDRF की 10 अतिरिक्त टीमों की तैनाती
  • CYCLONIC STORM AMPHAN in ODISHA AND BENGAL

2019

  • At least 58 teams of NDRF were deputed in Kerala during a flood in August 2018

2018

  • Flood in Chennai, Tamil Nadu – 10 Nov

2015

  • NDRF rushed teams to parts of India and Nepal affected by a late April earthquake.

2010

  • Building collapse at Bellary, Karnataka
  • Flood in Guwahati, Assam
  • Cyclone Laila in Andhra Pradesh & Karnataka
  • Cyclone Phailin in the states of Andhra Pradesh, Odisha, etc. – The battalions of the army and navy were used to evacuate people.

2009

  • Cyclone Aila (24 Pargana North & South, West Bengal)
  • Flood in Barpeta, Assam
  • Flood in Junagarh and Porbandar, Gujarat
  • Flood in Kasarkode, Kannur and Ernakulam, Kerala
  • Flood in Sitamarhi, Bihar (Bagmati breach)
  • Flood in Howrah & Hooghly, West Bengal
  • Andhra Pradesh & Karnataka Floods

2008

  • Building collapse (Hotel Shakunt) in Ahmedabad, Gujarat
  • Flood in Lakhimpur, Assam
  • Flood in Dhemaji, Assam
  • Flood in Lakhimpur, Assam
  • Flood in Lakhimpur, Assam
  • Flood in Puri, Cuttack, Kendrapara & Jagatsinghpur, Odisha
  • Flood in Kamrup, Assam
  • Flood in Tiruvarur, Tamil Nadu
  • Flood in Chennai, Tamil Nadu

2007

  • Flood in Bhavnagar, Gujarat
  • Flood in Rajkot, Gujarat

दोस्तों उम्मीद है आपको समझ में आ गया हो होगा की NDRF full form meaning के बारे समझ में आ गया हो और आज के समय में इसका इस्तेमाल COVID 19 से बचाव के NDRF team पूरी तरह से काम कर रहा है और देश को इस बड़ी प्रकृति आपदा से बचने में लगा हुए है. आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर करे. इसके बारे में थोड़ा ध्यान से पढ़े क्योकि अब आगे इससे जुड़े बहुत से सवाल आपको board exams के साथ-साथ competition exams में बहुत देखने को मिलेंगे ऐसे में अगर आपको पहले से पता होगा तो ज्यादा बेहतर होगा क्योकि इसमें कोई direct भर्ती नहीं होती इसलिए इसके बारे में बहुत जानते हैं.

4 thoughts on “NDRF Full Form Meaning in Hindi”

Leave a Comment